क्रिकेट डार्सी शॉर्ट

Publishing time:2021-10-18 08:40:30

बैकारेट में कार्ड कैसे गिनें क्रिकेट डार्सी शॉर्ट betway प्रमोशन,लियोवेगास एक्सपेक्ट,lovebet 992,lovebet केवाईसी सत्यापन,lovebet वी/सी,एक कैसीनो खेल,बैकरेट कैसीनो डिजिटल कौशल,बैकरेट रोड सिंगल नेट डाउनलोड,bet365 betclic y lovebet,नकद असली पैसा रूले,कैसीनो खोज लाइव,शतरंज एक्स रे,क्रिकेट विशेषज्ञ,दिन मशीनरी कैसीनो एनएसडब्ल्यूई,यूरोपीय कप मकाऊ सेट,फुटबॉल ग्राउंड विश्लेषण सॉफ्टवेयर,गेमिंग क्रेडिट प्लेटफॉर्म,क्या आपने ऑनलाइन बैकरेट खेला है?,इंडिबेट विएन,जैकपॉट खेल आज,लाइव बैकरेट ऑनलाइन बेटिंग,लाइव रूले केन्या,लॉटरी उद्धरण अजीब,मिडवीक जैकपॉट बेटिका गेम्स,ऑनलाइन कैसीनो Knossi,ऑनलाइन लॉटरी बेटिंग स्टेशन,ऑनलाइन स्लॉट za,पोकर औ कैसीनो टिप्पणी जौर,mpl . में पूल रम्मी नियम,रॉयल कैनिन,रमी मोबाइल ट्रैकर,s'incribe सुर लवबेट,स्लॉट मंदिर,स्पोर्ट्स एक्स लीग,तीन पत्ती वाला गेम,द नॉइज़ क्रिकेट बुक,w.rummy 5a.com,विश्व कप बाधाओं का विश्लेषण,आईपीएल ऑरेंज कैप,कैटरीना हाइट,खेलो पर जुआ price,जोकर धुन छत्तीसगढ़ी,फुटबॉल खेळाची माहिती,बेटा का गीत,लाटरी संबाद मॉर्निंग,स्पीड टाइम्स लॉटरी, .म्‍यूचुअल फंडों के एक्सपेंस रेशियो के बारे में यहां जानिए सब कुछ

http://img95.699pic.com/photo/40037/1647.jpg_wh300.jpg?67016

म्‍यूचुअल फंडों के एक्सपेंस रेशियो के बारे में यहां जानिए सब कुछ

यह म्यूचुअल फंड के प्रबंधन पर आने वाले खर्च को प्रति यूनिट में बताता है.
  1. म्‍यूचुअल फंड स्‍कीम में एक्सपेंस रेशियो क्‍या होता है?
    एक्सपेंस रेशियो एक तरह का अनुपात है. यह म्यूचुअल फंड के प्रबंधन पर आने वाले खर्च को प्रति यूनिट में बताता है. किसी म्यूचुअल फंड स्‍कीम का एक्सपेंस रेशियो कैलकुलेट करने के लिए उसके एयूएम (एसेट अंडर मैनेजमेंट) में कुल खर्च से भाग दिया जाता है. दरअसल, फंड हाउस के पास प्रशिक्षित पेशेवरों की एक होती टीम है. यही टीम मार्केट और कंपनियों पर नजर रखती है. किसी शेयर को खरीदने या उससे निकलने के फैसले भी यही लेती है. इसके साथ ही एसेट मैनेजमेंट कंपनी (एमएमसी) ट्रांसफर और रजिस्ट्रार से संबंधित खर्च, कस्टोडियन, लीगल व ऑडिट का खर्च, स्कीम की मार्केटिंग और उसके डिस्ट्रीब्यूशन का खर्च भी उठाती है. ये सभी खर्च म्यूचुअल फंड की यूनिट खरीदने वाले ग्राहक से ही लिए जाते हैं. किसी म्यूचुअल फंड स्कीम की नेट एसेट वैल्यू इस तरह के खर्च को घटाने के बाद निकाली गई वैल्यू है.

  2. डायरेक्‍ट प्‍लान की तुलना में रेगुलर प्‍लान का एक्सपेंस रेशियो ज्‍यादा क्‍यों होता है?
    डायरेक्‍ट प्‍लान की पेशकश फंड हाउस सीधे करते हैं. यानी म्‍यूचुअल फंड कंपनी से इन प्‍लान को सीधे खरीदा जा सकता है. वहीं, रेगुलर प्‍लान इंडिपेंडेंट फाइनेंशियल एडवाइजर, बैंक या एनबीएफसी जैसे इंटरमीडियरी या डिस्ट्रीब्यूटरों के जरिये खरीदे जा सकते हैं. म्‍यूचुअल फंड कंपनी इंटरमीडियरी को कमीशन देती हैं. इसे प्‍लान के एक्‍सपेंस रेशियो के तौर पर वसूला जाता है. यही कारण है कि रेगुलर प्‍लान का एक्सपेंस रेशियो ज्यादा होता है.


  3. म्‍यूचुअल फंड के एक्सपेंस रेशियो के लिए क्‍या सीमा तय है?
    बाजार नियामक सेबी ने एक्सपेंस रेशियो की सीमा तय की हुई है. ओपन एंडेड इक्विटी स्कीम के एयूएम के आधार पर सेबी ने विभिन्न स्‍लैब बनाए हैं. जिन स्कीम का एयूएम 500 करोड़ रुपये है, वे एक्सपेंस रेशियो के रूप में अधिकतम 2.25 फीसदी चार्ज कर सकती हैं. 500-750 करोड़ रुपये एयूएम वाली स्कीम के लिए एक्सपेंस रेशियो 2 फीसदी है. 750-2,000 करोड़ रुपये वाली स्‍कीमों के लिए एक्सपेंस रेशियो 1.75 फीसदी, 2,000-5,000 करोड़ एयूएम वाली स्कीम के लिए 1.6 फीसदी और 5000-10,000 करोड़ रुपये एयूएम वाले फंड के लिए एक्सपेंस रेशियो 1.5 फीसदी हो सकता है. सेबी के निर्देश के मुताबिक, 10,000-50,000 करोड़ एयूएम वाली स्कीम के लिए एक्सपेंस रेशियो हर 5000 करोड़ रुपये बढ़ने के बाद 0.05 फीसदी कम होता चला जाएगा. अगर किसी म्यूचुअल फंड स्कीम का एयूएम 50,000 करोड़ से अधिक है तो उसके लिए एएमसी एक्सपेंस रेशियो के रूप में 1.05 फीसदी चार्ज ले सकती है.


  4. क्‍या म्‍यूचुअल फंड के एक्‍सपेंस रेशियो का रिटर्न पर असर पड़ता है?
    एक्सपेंस रेशियो बताता है कि आपके निवेश पोर्टफोलियो के प्रबंधन के लिए फंड आपसे कितनी फीस वसूल रहा है. अगर आप 2 फीसदी एक्‍सपेंस रेशियो वाली स्‍कीम में 10,000 रुपये निवेश करते हैं तो इसका मतलब यह है कि इस रकम के प्रबंधन के लिए आपको 200 रुपये की फीस चुकानी होगी. इस तरह अगर फंड का रिटर्न 12 फीसदी और उसका एक्‍सपेंस रेशियो 2 फीसदी है तो आप 10 फीसदी रिटर्न कमाएंगे. इस तरह कम एक्सपेंस रेशियो का मतलब अधिक मुनाफा है. वहीं, एक्सपेंस रेशियो अधिक होने का मतलब मुनाफा घटना है. हालांकि, यह सही है कि ज्‍यादा एक्‍सपेंस रेशियो का फंड के रिटर्न पर असर पड़ता है. लेकिन, यह जरूरी नहीं है कि हमेशा अधिक एक्सपेंस रेशियो का मतलब कम मुनाफा ही हो. निवेशकों को स्‍कीम चुनने में कई अन्‍य बातों का भी ध्यान रखना चाहिए.


पैसे कमाने, बचाने और बढ़ाने के साथ निवेश के मौकों के बारे में जानकारी पाने के लिए हमारे फेसबुक पेज पर जाएं. फेसबुक पेज पर जाने के लिए यहां क्‍ल‍िक करें

टॉपिक

एक्‍सपेंस रेशियोडायरेक्‍ट प्‍लानरिटर्नसेबीम्‍यूचुअल फंडरेगुलर प्‍लान

ETPrime stories of the day

PrimeTalk invite | Blurring the lines of retail.
Modern retail

PrimeTalk invite | Blurring the lines of retail.

2 mins read
Inside Amrish Rau’s experiments at Pine Labs: card swipe as a gateway to everything that’s SaaS
Fintech

Inside Amrish Rau’s experiments at Pine Labs: card swipe as a gateway to everything that’s SaaS

10 mins read
Auto sales may plunge 30% this festive season. But don’t blindly point a finger at tepid demand.
Auto

Auto sales may plunge 30% this festive season. But don’t blindly point a finger at tepid demand.

12 mins read
म्‍यूचुअल फंडों के एक्सपेंस रेशियो के बारे में यहां जानिए सब कुछ

सामान्‍य सिप के मामले में निवेशक सिप की अवधि में अपना कॉन्ट्रिब्‍यूशन नहीं बढ़ा सकते हैं. अगर वे इसे बढ़ाना चाहते हैं तो उन्‍हें नए सिरे से सिप शुरू करना होगा या एकमुश्त निवेश करने की जरूरत होगी.चेन्नई के आयलैंड ग्राउंड्स में सालाना दिवाली क्रैकर्स मार्ट (Annual Diwali Crackers Mart) शुक्रवार को एक पखवाड़े के लिए यानी 5 नवंबर तक खुलेगा। आयलैंड ग्राउंड्स में 55 स्टॉल लगाए जाएंगे।गोल्ड ईटीएफ में सितंबर में 446 करोड़ रुपये का निवेश आया

लाहौर, 17 अक्टूबर (भाषा) पाकिस्तान ने एक चीनी कंपनी को सरकारी परियोजना में बोली के दौरान फर्जी दस्तावेज जमा करने के आरोप में काली सूची में डाल दिया है और उसे एक महीने के लिए किसी भी सरकारी निविदा में भाग लेने से रोक दिया है। समाचार पत्र ‘डॉन’ ने एक रिपोर्ट में चीनी कंपनी का नाम लिए बिना बताया कि पाकिस्तान की नेशनल ट्रांसमिशन एंड डिस्पैच कंपनी (एनटीडीसी) की एक परियोजना की बोली के दौरान जाली दस्तावेज जमा करने के लिए इस फर्म को काली सूची में डाला गया। एनटीडीसी महाप्रबंधक कार्यालय से दो दिन पहले जारी एक पत्रवित्त वर्ष 2020-21 में घरेलू म्यूचुअल फंड इंडस्ट्री का एसेट अंडर मैनेजमेंट (एयूएम) 41 फीसदी बढ़कर 31.43 लाख करोड़ रुपये तक पहुंचई गई.हर्ष गोयनका ने ट्विटर पर एप्पल की ली चुटकी, यूजर्स ने ​ऐसे किया रिएक्ट

नयी दिल्ली, 17 अक्टूबर (भाषा) गोल्ड एक्सचेंज ट्रेडेड कोषों (ईटीएफ) में सितंबर में 446 करोड़ रुपये का निवेश आया। देश में त्योहारी सीजन के मद्देनजर मजबूत मांग के चलते निवेश का यह प्रवाह अभी जारी रहने की उम्मीद है। इससे पिछले महीने गोल्ड ईटीएफ में 24 करोड़ रुपये का शुद्ध निवेश आया था। एसोसिएशन ऑफ म्यूचुअल फंड्स इन इंडिया (एम्फी) के आंकड़ों के अनुसार, जुलाई में गोल्ड ईटीएफ से निवेशकों ने शुद्ध रूप से 61.5 करोड़ रुपये की निकासी की थी। गोल्ड ईटीएफ श्रेणी में अबतक शुद्ध रूप से 3,515 करोड़ रुपये का निवेश मिला है। सिर्फ जुलाई ऐसानयी दिल्ली, 17 अक्टूबर (भाषा) देश में बिजली की खपत अक्टूबर के पहले पखवाड़े में 3.35 प्रतिशत बढ़कर 57.22 अरब यूनिट (बीयू) पर पहुंच गई। बिजली मंत्रालय के आंकड़ों में यह जानकारी मिली है। इन आंकड़ों से पता चलता है कि कोयले की कमी के बीच देश में बिजली की मांग में सुधार हो रहा है। आंकड़ों के अनुसार, पिछले साल एक से 15 अक्टूबर के दौरान बिजली की खपत 55.36 अरब यूनिट रही थी। देश के बिजली संयंत्रों में कोयला संकट के बीच 15 अक्टूबर को व्यस्त समय में बिजली की कमी घटकर 986 मेगावॉट रह गई। सात अक्टूबर कोबुजुर्गों को मिले ज्‍यादा ब्‍याज, एससीएसएस की लिमिट बढ़ाकर ₹50 लाख की जाए

स्रोत: Nanfang Daily Online    Editor in charge: hit


एल रोयाले कैसीनो
यूरोपीय कप आज रात संभावना
स्लॉट्स मीनिंग इन हिंदी
शीर्ष रम्मी क्लासिक
lovebet रेसिंग रेडियो
लाइव लाठी bet365
भारत में सट्टेबाजी लाइसेंस
sh.lovebet.de लॉगिन
lovebet 25
lovebet go2hr
स्लॉट 4 मज़ा
रम्मी खेलने के लिए रियल मनी गाइड
प्रेमिका के साथ ऑनलाइन गेम
भा फुटबॉल जुड़नार
मोबाइल फुटबॉल लाइव स्कोर URL
कैसीनो मैदान
क्रिकेट व्यू मिल्डेनहॉल
क्रिकेट ग्राहक सेवा
क्रिकेट तस्वीरें
ऑनलाइन क्रेडिट बेटिंग नेटवर्क
ऑनलाइन मनोरंजन खेल
स्पोर्ट्सबुक आर्बिट्रेज
उत्पत्ति कैसीनो शिकायतें
रम्मी वेरिएंट हिंदी
राख के लिए स्लॉट मशीन कलश
ऑनलाइन पोकर कार्ड गेम
लियोवेगास लाठी