ऑनलाइन गेम्स फॉर किड्स

Publishing time:2021-10-25 16:05:48

कैसीनो पूंजीवाद ऑनलाइन गेम्स फॉर किड्स betway ऑनलाइन,लीवगैस जमा करने के तरीके,lovebet 90 बॉल बिंगो,lovebet किनकार्डिन खुलने का समय,lovebet यूजर आईडी,6क्रिकेट प्रदाता,बैकारेट कोशिश कर सकते हैं,बकारट रोड मैप,वॉलीबॉल में पांच में से सर्वश्रेष्ठ तीन गेम,नकद शतरंज रैंकिंग,कैसीनो ग्रह वापसी का समय,शतरंज यू dvoje,क्रिकेट निबंध,दिन होटल और कैसीनो,यूरोपीय कप का सीधा प्रसारण,फुटबॉल का पहला हाफ टाइम,पुस्तक क्रिकेट हैकररैंक समाधान का खेल,हैप्पी किसान दिवस की स्थिति,शीघ्र इन्डिबेट,घाना में खजाना खेल,लाइव अमेरिकन रूले,लाइव रूले ग्रोसवेनर,लॉटरी पुरस्कार,एमबीए पोकर,ऑनलाइन कैसीनो खजाना,ऑनलाइन लाइव कैसीनो,सर्वोत्तम भुगतान के साथ ऑनलाइन स्लॉट,पोकर पूर्व,पूल रम्मी एक्सटेंशन,रूले हाँ या नहीं,रमी मोबाइल मास्टर,शा स्पोर्ट्स ऐप,स्लॉट शेष,खेल गांव कानपुर,तीन पत्ती टर्बो,सबसे प्रतिष्ठित फुटबॉल सट्टेबाजी,वोंग क्वे fun88,विश्व कप फुटबॉल ऑड्स नेटवर्क,असली पैसे का खेल pdf,कैटरीना यूट्यूब,खेलो पर जुआ login,जोकर ड्राइंग,फुटबॉल इंडिया,बेटा ऑफिस मुंबई,लाटरी पंजाब रिजल्ट,स्टेटस हिंदी ज़िन्दगी डाउनलोड, .कोयला आपूर्ति में बिजली क्षेत्र को प्राथमिकता से हिंदुस्तान जिंक कुछ हद तक प्रभावित: सीईओ

http://img95.699pic.com/photo/40037/1647.jpg_wh300.jpg?67016

कोयला आपूर्ति में बिजली क्षेत्र को प्राथमिकता से हिंदुस्तान जिंक कुछ हद तक प्रभावित: सीईओ

नयी दिल्ली, 24 अक्टूबर (भाषा) घरेलू कोयले की आपूर्ति में बिजली क्षेत्र को प्राथमिकता देने से हिंदुस्तान जिंक पर 'कुछ हद तक' असर पड़ा है। वेदांता समूह के एक शीर्ष अधिकारी यह बात कही।

उन्होंने कहा, हालांकि कंपनी ने मार्च तक के लिए कोयले के आयात का अनुबंध कर फिलहाल इस समस्या का हल निकाल लिया है।

घरेलू कोयला उत्पादन में 80 प्रतिशत का हिस्सा रखने वाली कोल इंडिया लि. ताप बिजली संयंत्रों में कोयले की कमी को देखते हुए उन्हें अस्थायी रूप से आपूर्ति में प्राथमिकता दे रही है।

हिंदुस्तान जिंक लिमिटेड के मुख्य कार्यपालक अधिकारी (सीईओ) अरुण मिश्रा ने पीटीआई-भाषा से बातचीत में कहा कि कंपनी की वार्षिक कोयले की खपत लगभग 20 लाख टन है और वह अपने संयंत्रों में आयातित और घरेलू दोनों ईंधन का उपयोग करती है।

बिजली क्षेत्र को घरेलू कोयले की आपूर्ति में प्राथमिकता देने से कंपनी को पड़ने वाले असर को लेकर उन्होंने कहा, ‘‘हां, कुछ हद तक हम पर इसका असर पड़ा है। यह अस्थायी हो सकता है। अब आयातित कोयले की अधिक खपत होगी तथा अगले दो या तीन महीनों में घरेलू कोयला पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध होना चाहिए।’’

मिश्रा ने कहा, ‘‘जहां तक उच्च कीमतों का सवाल है, तो यह पहली बार है जब कीमतों का लागत पर प्रभाव पड़ा है।’’

उन्होंने कहा कि संयंत्रों में धातुओं के उत्पादन के लिए बिजली बहुत महत्वपूर्ण है और कोयला कंपनी के बिजली संयंत्र के लिए प्रमुख उत्पादन सामग्री है।

(This story has not been edited by economictimes.com and is auto–generated from a syndicated feed we subscribe to.)
(This story has not been edited by economictimes.com and is auto–generated from a syndicated feed we subscribe to.)

ETPrime stories of the day

Lilly withered in India’s blooming diabetes market. Key deficiency: an India-specific sales pitch.
Pharma

Lilly withered in India’s blooming diabetes market. Key deficiency: an India-specific sales pitch.

9 mins read
Havildar Tom Cruise? A case diary of Indian cops’ craze for artificial intelligence in policing
Artificial intelligence

Havildar Tom Cruise? A case diary of Indian cops’ craze for artificial intelligence in policing

11 mins read
How Srei lenders hid potential related-party transactions by routing them through public trusts
Under the lens

How Srei lenders hid potential related-party transactions by routing them through public trusts

10 mins read
कोयला आपूर्ति में बिजली क्षेत्र को प्राथमिकता से हिंदुस्तान जिंक कुछ हद तक प्रभावित: सीईओ

नयी दिल्ली 24 अक्टूबर (भाषा) सरकार और उद्योग को कपड़ा एवं परिधान क्षेत्र में 'ब्रांड इंडिया' का निर्माण करने के लिए साथ मिलकर काम करने की जरूरत है। एक रिपोर्ट में यह कहा गया है। भारतीय उद्योग परिसंघ (सीआईआई)-कियर्ने की संयुक्त रिपोर्ट में सुझाव दिया गया है कि सरकार को घरेलू कपड़ा क्षेत्र में निवेश आकर्षित करने के लिए उचित अवसर, साधन, प्राधिकरण आदि स्थापित करने पर ध्यान देना चाहिए। रिपोर्ट में उद्योग के लिए विनिर्माण प्रतिस्पर्धा के मामले में वैश्विक सर्वोत्तम प्रक्रियाओं को अपनाने की जरूरत को भी रेखांकित किया गया है। साथ ही सेवा के स्तर मेंमुंबई, 25 अक्टूबर (भाषा) कच्चे तेल में तेजी और घरेलू शेयर बाजार में गिरावट के बीच भारतीय रुपया सोमवार को शुरुआती कारोबार के दौरान अमेरिकी डॉलर के मुकाबले 14 पैसे टूटकर 75.04 के स्तर पर आ गया। अंतरबैंक विदेशी मुद्रा विनिमय बाजार में रुपया कमजोर रुख के साथ 74.98 पर खुला, और फिर टूटकर 75.04 पर पहुंच गया, जो पिछले बंद भाव के मुकाबले 14 पैसे की गिरावट दर्ज करता है। रुपया शुक्रवार को अमेरिकी डॉलर के मुकाबले 74.90 पर बंद हुआ था। इसबीच छह प्रमुख मुद्राओं के मुकाबले अमेरिकी डॉलर की स्थिति को दर्शाने वाला डॉलर सूचकांक 0.12 प्रतिशतShare Market Update: शुरुआती कारोबार में 100 अंक से अधिक फिसला सेंसेक्स, 8 फीसदी उछला ICICI Bank का शेयर

(अनन्या सेनगुप्ता) नयी दिल्ली, 24 अक्टूबर (भाषा) केंद्र सरकार ने आजाद हिंद सरकार के गठन की वर्षगांठ के उपलक्ष्य में आयोजित कार्यक्रमों के तहत देश भर में नेताजी सुभाष चंद्र बोस से जुड़े स्थलों को यात्रा कार्यक्रमों के जरिये बढ़ावा देने की योजना तैयार की है। पर्यटन मंत्रालय के अधिकारियों ने यह जानकारी दी। 21 अक्टूबर 1943 को बोस ने सिंगापुर में आजाद हिंद की अस्थायी सरकार के गठन की घोषणा की थी। उन्होंने द्वितीय विश्व युद्ध के उत्तरार्ध के दौरान अनंतिम निर्वासित सरकार के तहत भारत को ब्रिटिश शासन से मुक्त कराने के लिए संघर्ष शुरू किया था। भारत मेंनयी दिल्ली, 24 अक्टूबर (भाषा) उद्योग मंडल पीएचडीसीसीआई ने रविवार को कहा कि आर्थिक पुनरुद्धार के जोर पकड़ने के साथ उसे आने वाली तिमाहियों में मजबूत जीडीपी वृद्धि की उम्मीद है। उद्योग मंडल द्वारा ट्रैक किए गए क्यूईटी (क्विक इकोनॉमिक ट्रेंड्स) के 12 प्रमुख आर्थिक और कारोबारी संकेतकों में से नौ ने सितंबर 2021 में क्रमिक वृद्धि में तेजी दिखायी है जबकि अगस्त में छह संकेतकों में ऐसा हुआ था। पीएचडी चैंबर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री (पीएचडीसीसीआई) के अध्यक्ष प्रदीप मुल्तानी ने कहा, "हाल के महीनों में प्रमुख आर्थिक और कारोबारी संकेतकों में तेजी से पता चलता है कि आर्थिक पुनरुद्धारपैनासोनिक को त्योहारों में बिक्री अच्छी रहने की उम्मीद, पीएलआई के तहत 300 करोड़ रु. का निवेश करेगी

ऐमजॉन (Amazon) और फ्लिपकार्ट (Flipkart) ने पहले ही स्थित को भांप लिया था और सेलर्स ने पहले ही काफी इनवेंट्री जमा कर रखी है। यही वजह है कि इन मार्केटप्लेसेज में स्थिति बेहतर है। दिवाली 4 नवंबर को है।नयी दिल्ली, 24 अक्टूबर (भाषा) केंद्र ने रविवार को कहा कि त्योहारी सीजन के दौरान मांग में होने वाली वृद्धि को ध्यान में रखते हुए वह खाद्य तेलों की कीमतों पर नजर रखे हुए है और 25 अक्टूबर को एक बैठक कर भंडार रखने की सीमा के अपने आदेश पर राज्यों द्वारा की गयी कार्रवाई की समीक्षा करेगा। गौरतलब है कि केंद्र ने गत 10 अक्टूबर को घरेलू कीमतों को नियंत्रित करने और उपभोक्ताओं को राहत प्रदान करने के लिए, कुछ आयातकों और निर्यातकों को छोड़कर, खाद्य तेलों और तिलहनों के व्यापारियों पर 31 मार्च तक के लिए भंडारण सीमा तयआईपीएल में चेन्नई की जीत ने इंडिया सीमेंट्स के साथ उसकी समानता का दर्शाया: श्रीनिवासन

स्रोत: Nanfang Daily Online    Editor in charge: hit


x लॉटरी सांबद
किसके पास अधिक सामान्य उदाहरण और ऑनलाइन बैकारेट के जोड़े हैं
लॉटरी लकी नंबर 2020
नवीनतम यूनाइटेड इंटरनेशनल बेटिंग नेटवर्क
बेटिंग कंपनी एजेंट
casumo ऑफर
क्लासिकरम्मी ज़ोन
lovebet कस्टमर केयर नंबर
नियम अपवाद
जैक सजेट यू लवबेट
फुटबॉल संशोधन प्रणाली
बैकारेट वायरिंग कैसे खेलें
पुलिस चेस
बैकरेट विश्लेषण उपकरण
betway व्हाट्सएप नंबर
फुटबॉल परिधीय साइट
कॉमोन ट्रस्टपायलट
बैकारेट अ ला रोज
डीएच कैसीनो
करुणा तेरा मैया जिंदाबाद
isaimini . में जैकपॉट पूरी मूवी डाउनलोड करें
फुटबॉल मैं गठन
खिलाड़ी का गोदाम
तमिल में सुविधा को अनलॉक करने के लिए जंगल रम्मी.कॉम
लॉटरी एनजे
किस ऑनलाइन कैसीनो की अच्छी प्रतिष्ठा है
फुटबॉल खेल सट्टेबाजी