क्रिकेट जीके प्रश्नोत्तरी हिंदी में

Publishing time:2021-10-18 08:11:33

रमी लकी क्रिकेट जीके प्रश्नोत्तरी हिंदी में 188bet फुटबॉल प्रायोजन,casumo समीक्षा,lovebet 1 मिलियन विजेता,lovebet ई ट्रांसफर,lovebet पीएनजी,lovebet3,बी शतरंज के खेल,baccarat मैं बूगी कर सकता हूँ,बैकारेट ज़ूमइन्फो,बेटिंग टीवी,कैसीनो के दिन कोंटो लोसचेन,कैसीनो डॉट कॉम कोई जमा बोनस नहीं,आओ आओ,क्रिकेट फोटो,एस्पोर्ट्स ईटीएफ,रश क्रीक के लिए मछली पकड़ने के नियम,फुटबॉल गाने,जीके क्रिकेट टीम,लॉटरी में कैसे शामिल हों,आईपीएल विजेता 2021,जंगल रम्मीकल्चर,लाइव कैसीनो मुफ्त बोनस,लॉटरी एक पिक,लूडो फैंसी,नोविबेट साइन अप ऑफर,ऑनलाइन जुआ मंच झाजिंहुआ,ऑनलाइन पोकर ब्रिटेन,पारिमैच राजस्व,पोकर और स्लोवेनस्कु,प्रतिष्ठित शतरंज वेबसाइट,शासन विश्वविद्यालय,रम्मीकल्चर कैश ऐप डाउनलोड,स्लॉट मशीन तकनीशियन,स्पोर्ट्स बाइक 1 लाख से कम,स्पोर्ट्सबुक यूनिट,बंदूक के नीचे टेक्सास होल्डम,आप रम्मी गेम,कौन सा बैकारेट मनोरंजन मंच सबसे विशिष्ट करता है,जैपक बुक क्रिकेट,ऑनलाइन जुआ onomas,क्रिकेट test match,गोवा पणजी,तीन पत्ती जुआ,बकरा बोलने वाला,बैकारेट book,सब तरह से, .डिक्सन टेक्नोलॉजी ने 5जी मिलीमीटर स्मार्टफोन का उत्पादन शुरू किया

http://img95.699pic.com/photo/40037/1647.jpg_wh300.jpg?67016

डिक्सन टेक्नोलॉजी ने 5जी मिलीमीटर स्मार्टफोन का उत्पादन शुरू किया

नयी दिल्ली 17 अक्टूबर (भाषा) घरेलू इलेक्ट्रॉनिक विर्निमाण कंपनी डिक्सन टेक्नोलॉजी ने 5जी मिलीमीटर वेव्स स्मार्टफोन का उत्पादन शुरू कर दिया है, जो इस श्रेणी में भारत से निर्यात किए जाने वाले उपकरणों का पहला सेट होगा। कंपनी एक शीर्ष अधिकारी ने रविवार को यह जानकारी दी।

डिक्सन ने 70 लाख 5जी मिलीमीटर (मिमी) फोन की वार्षिक उत्पादन क्षमता के साथ एक विनिर्माण इकाई स्थापित की है और वह नोएडा में तीन करोड़ स्मार्टफोन की वार्षिक उत्पादन क्षमता के साथ एक और कारखाना स्थापित कर रही है।

डिक्सन टेक्नोलॉजीज के कार्यकारी अध्यक्ष सुनील वाचानी ने पीटीआई-भाषा को बताया, "ओर्बिक मायरा 5जी यूडब्लयू स्मार्टफोन भारत में आंशिक रूप से डिजाइन किया गया, पहला स्मार्टफोन है। यह उच्च आवृत्ति (फ्रीक्वेंसी) बैंड में भी काम कर सकता है।"

कंपनी को अमेरिका स्थित ऑर्बिक से एक ऑर्डर मिला है।

रिपोर्ट के अनुसार 5जी मिलीमीटर स्मार्टफोन एक फोन पर करीब 5 गीगाबिट प्रति सेकेंड (जीबीपीएस) तक की गति प्रदान कर सकता है। यह भारत में 4जी मोबाइल की शीर्ष गति की तुलना में 250 गुना तेज है।

वही 5जी मिलीमीटर स्मार्टफोन्स ने लगभग 2 जीबीपीएस की गति दर्ज की है। यह 4जी नेटवर्क पर भारत में दूरसंचार नियामक ट्राई द्वारा दर्ज की गई अधिकतम गति से करीब 90 गुना तेज है।

(This story has not been edited by economictimes.com and is auto–generated from a syndicated feed we subscribe to.)
(This story has not been edited by economictimes.com and is auto–generated from a syndicated feed we subscribe to.)

ETPrime stories of the day

PrimeTalk invite | Blurring the lines of retail.
Modern retail

PrimeTalk invite | Blurring the lines of retail.

2 mins read
Inside Amrish Rau’s experiments at Pine Labs: card swipe as a gateway to everything that’s SaaS
Fintech

Inside Amrish Rau’s experiments at Pine Labs: card swipe as a gateway to everything that’s SaaS

10 mins read
Auto sales may plunge 30% this festive season. But don’t blindly point a finger at tepid demand.
Auto

Auto sales may plunge 30% this festive season. But don’t blindly point a finger at tepid demand.

12 mins read
डिक्सन टेक्नोलॉजी ने 5जी मिलीमीटर स्मार्टफोन का उत्पादन शुरू किया

नयी दिल्ली, 17 अक्टूबर (भाषा) अमेरिका की स्वच्छ ऊर्जा तथा मोबिलिटी स्टार्टअप पावर ग्लोबल की योजना अगले दो से तीन साल के दौरान भारत में लिथियम आयन बैटरी विनिर्माण इकाई तथा बैटरी अदला-बदली ढांचा लगाने के लिए 2.5 करोड़ डॉलर या 185 करोड़ रुपये का निवेश करने की योजना है। कंपनी के एक शीर्ष अधिकारी ने यह जानकारी दी। कंपनी उत्तर प्रदेश के ग्रेटर नोएडा में एक गीगावॉट घंटे की क्षमता का बैटरी संयंत्र लगा रही है। इसके अलावा कंपनी का लक्ष्य भारत में आठ लाख परंपरागत तिपहिया को रेट्रोफिट कर उन्हें इलेक्ट्रिक संस्करण में बदलने की योजना है। कंपनी नेभुवनेश्वर, 17 अक्टूबर (भाषा) ओडिशा में खनिज क्षेत्र से राजस्व संग्रह अप्रैल-सितंबर के दौरान 221 प्रतिशत बढ़कर 18,841 करोड़ रुपये से अधिक हो गया, जो चालू वित्त वर्ष के लिए इस क्षेत्र के बजटीय अनुमान से अधिक है। इस क्षेत्र से एक साल पहले की समान अवधि में 5,870.74 करोड़ रुपये का राजस्व हासिल किया गया था। राज्य में वित्त विभाग के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि बजट अनुमान के अनुसार वित्त वर्ष 2021-22 में खनिज राजस्व के रूप में 13,700 करोड़ रुपये मिलने की उम्मीद थी, लेकिन ओडिशा ने काफी पहले ही 30 सितंबर तक 18,841.54 करोड़ रुपये जुटाहर्ष गोयनका ने ट्विटर पर एप्पल की ली चुटकी, यूजर्स ने ​ऐसे किया रिएक्ट

नयी दिल्ली 17 अक्टूबर (भाषा) देश में तीन मुख्य सब्जियों की बढ़ती कीमतों के बीच केंद्र सरकार ने रविवार की कहा कि बफर स्टॉक जारी होने से प्याज की कीमतों को स्थिर किया जा रहा है, जबकि टमाटर और आलू की कीमतों में नरमी के प्रयास जारी हैं। सरकार ने कहा कि कीमतों में नरमी और न्यूनतम भंडारण हानि सुनिश्चित करने के लिए प्याज के स्टॉक को अगस्त के अंतिम सप्ताह से फर्स्ट-इन-फर्स्ट-आउट (एफआईएफओ) के आधार पर उचित तरीके से बाजार में उपलब्ध कराया जा रहा है। इसी के परिणामस्वरूप 14 अक्टूबर को महानगरों में खुदरा प्याज की कीमत 42(राजेश अभय) नयी दिल्ली, 17 अक्टूबर (भाषा) स्वतंत्र भारतीय वैज्ञानिक डॉ. अजय कुमार सोनकर ने मोती उत्पादन में अपने नये शोध से दुनिया को हैरत में डाल दिया है। अंडमान और निकोबार के वैज्ञानिक ने ‘सेल कल्चर’ के माध्यम से शीशे के फ्लास्क में मोती उत्पादन की तकनीक को सफलतापूर्वक विकसित करके ‘टिश्यू कल्चर’ के शोध में संभावनाओं के नये द्वार खोल दिये हैं। इससे पहले सोनकर ने दुनिया का सबसे बड़ा काला हीरा बनाने और भगवान गणेश के आकार का हीरा विकसित कर बड़ी उपलब्धियां हासिल की थीं। सोनकर का कहना हैपहली छमाही में सोने का आयात कई गुना बढ़कर 24 अरब डॉलर पर

(अभिषेक सोनकर) नयी दिल्ली, 17 अक्टूबर (भाषा) शीर्ष उद्योग निकाय एमआईएमए के मुताबिक ‘‘अगर कोयले की कमी बनी रही तो’’ घरेलू स्पॉन्ज आयरन उद्योग दिसंबर तिमाही में नकारात्मक वृद्धि दर्ज कर सकता है।' स्पॉन्ज आयरन विनिर्माता संघ (एसआईएमए) के कार्यकारी निदेशक दीपेंद्र काशिवा ने कहा कि मौजूदा कोयला संकट के बीच जुलाई-सितंबर 2021 के दौरान भारत के स्पॉन्ज आयरन उत्पादन में इससे पिछली तिमाही के मुकाबले 60 प्रतिशत तक गिरावट हो सकती है। जेपीसी के आंकड़ों के मुताबिक जनवरी-मार्च 2021 के मुकाबले अप्रैल-जून 2021 में स्पॉन्ज आयरन उत्पादन 70 प्रतिशत बढ़ा था। उन्होंने बिना कोई ब्योरा दिए कहा कि चालूनयी दिल्ली, 17 अक्टूबर (भाषा) देश में बिजली की खपत अक्टूबर के पहले पखवाड़े में 3.35 प्रतिशत बढ़कर 57.22 अरब यूनिट (बीयू) पर पहुंच गई। बिजली मंत्रालय के आंकड़ों में यह जानकारी मिली है। इन आंकड़ों से पता चलता है कि कोयले की कमी के बीच देश में बिजली की मांग में सुधार हो रहा है। आंकड़ों के अनुसार, पिछले साल एक से 15 अक्टूबर के दौरान बिजली की खपत 55.36 अरब यूनिट रही थी। देश के बिजली संयंत्रों में कोयला संकट के बीच 15 अक्टूबर को व्यस्त समय में बिजली की कमी घटकर 986 मेगावॉट रह गई। सात अक्टूबर कोविंटर वैकेशन में अमेरिका, ब्रिटेन में पढ़ रहे छात्रों की घर वापसी हुई महंगी, चुकाना पड़ सकता है तिगुना हवाई किराया

स्रोत: Nanfang Daily Online    Editor in charge: hit


lovebet १० मुफ्त
फ्लॉप पोकर
क्रिकेट झज्जर
फुटबॉल बाधा का विश्लेषण कैसे करें
lovebet कोड प्रोमोसीजनी 2020
lovebet प्रोमो कोड
lovebet लॉगिन ऑनलाइन
qoo10 लाइव रूले
अपने दिमाग पर राज करो
ऑनलाइन रूले सट्टेबाजी
बैकरेट मास्टर फोरम
cricket विकिपीडिया
फुटबॉल टी शर्ट निर्माता
नकदी के साथ जुआ
लाइव कैसीनो बिजली पासा
क्रिकेट भारत
lovebetक क्वोई
रश क्रीक के लिए मछली पकड़ने के नियम
188bet जापान बेसबॉल
188bet पेनिपु
बैकारेट में टाई होने की प्रायिकता
चेस बोर्ड गेम
औलाद स्टेटस
यूरोपीय कप बाधाओं की खबर
संचायक 8 लवबेट
ऑनलाइन कैसीनो केन्या mpesa
पोकर रन